ज़मीन में खाता नम्बर क्या होता है jamin me khata number kya hota hai | what is khata number in land | what is plot number

ज़मीन में खाता नम्बर क्या होता है  - Jamin me khata number kya hota hai


आप जब भी जमीन खरीदने या बेचने के बारे में सोचते हैं तो आपको खाता और खसरा नंबर से पल्ला पड़ता है। और ऐसे भी हमलोगो को नॉलेज रखनी चाहिए। खाता नम्बर को अकाउंट नम्बर और खसरा नंबर को प्लॉट नम्बर भी कहते है। इसको समझना काफ़ी आसान है। जिस तरह बैंकों में हमलोगो का अकाउंट नंबर होता है उसी तरह जमीन के लिए भी ज़मीन मालिकों को अकाउंट होता है, हिंदी में इसे खाता या खतौनी कहते हैं।

इसको एक उदाहरण से समझते हैं बैंक में एक गांव के एक आदमी का एक या एक से ज्यादा खाता भी हो सकता है और उसका जोवाएंट खाता भी हो सकता है चाहे उसके वाइफ़ के साथ या किसी दूसरे फ़ैमिली मेम्बर कि साथ जैसे माता, पिता, भाई किसी के साथ भी हो सकता हैं। और एक से ज़्यादा बैंकों में भी हो सकता है और बैंक खाता से यह पता चलता है की उस आदमी के पास कितना पैसे है या सभी खाते मिलकर कितना  कुल पैसा हैं। उसी तरह से सेम टू सेम जमीन में भी होता हैं। 

गांव/छोटे सहरों में समय-समय पर सरकार द्वारा सर्वे किया जाता है और उस सर्वे में कौन सा जमीन किसके नाम पर है उसे सरकारी रिकॉर्ड में स्थाई रूप से डाल दिया जाता है ज़मीन का सर्वे के समय सभी लोगों जिसका ज़मीन होगा उसको एक खाता नम्बर दिया गया होगा पुराने सर्वे में पुराना खाता ओर फ़िलहाल के सर्वे में फ़िलहाल के खाता नम्बर दिए गये होंगे। एक आदमीं का एक गाव में एक ओर उससे अधिक खाते भी हो सकते हैं और उसी आदमी का दूसरे गाँव में भी एक या उससे अधिक खाता भी हो सकते है सभी का खाता नम्बर अलग अलग होगा और उसे खाते का ओ अकेला या जोवाएंट मलिक हो सकता हैं जिस तरह बैंक खाता में यह दर्शाया जाता है कि उस आदमी के पास कितना  पैसा है उसी तरह जमीन के खाता नंबर से यह पता चलता है कि उस आदमी के पास कौन-कौन सी जमीन है और कितना हैं।

सम्बंधित लेख, 

खाता नम्बर क्या होता हैं - khata number kya hota hai

खाता नम्बर यानी अकाउंट नम्बर  किसी भी जमीनी संपत्ति  को दस्तावेजों / डॉक्युमेंट  पर निर्धारित करने के लिए दिया गया एक  एक संख्या के रूप में देखा जा सकता है, इसका उपयोग संपत्ति की जानकारी के लिए और उस क्षेत्र के मैप यानी नक़्शा में उस जगह को दिखाने के लिए उपयोग में लिया जाता है! कही कही खाता नम्बर को खेवट नम्बर भी कहते हैं।

खतियन क्या होता हैं -  khatiyan kya hota hai

खाता नम्बर कि जानकारी जिस दस्तावेजों पर की जाती है उसे खतियन कहते हैं ये बहुत ही महत्वपूर्ण काग़ज़ात होता हैं। इसको हमेशा सम्भाल कर रखना चाहिए। 

खसरा (khasra) प्लॉट नम्बर क्या होता है -  khasara number kya hota hai - plot number kya hota hai

जैसे की हमलोग खतीयान के बारे में जाने की इसमें खाता नम्बर का सारा जानकारी होता है, प्लॉट नम्बर यानी खसरा (khasra) इसका एक ईकाई होता हैं जो वास्तविक ज़मीन का जानकारी बताता हैं। की ये ज़मीन कहा पर उपस्थित है और उसका चौहदी क्या हैं। और मैप यानी नक़्शा में भी प्लॉट ही दर्शाया हुआ होता है जिससे अमीन सीमांकन करके उसे निकलते हैं। एक खाते में बहुत सारे खेसरा नम्बर यानी प्लॉट नम्बर हो सकते हैं चलिए इसको बेहतर तरीक़े से समझने के लिए एक उदाहरण से समझते हैं। आपने कोई बुक यानी किताब पड़ी होगा उसका पहला पेज में इंडेक्स यानी विषय सूची होता हैं। और ऐ विषय सूची दर्शाते है कि कौनसी पाठ किस पेज नम्बर पर हैं। उसी तरह प्लॉट नम्बर, नक़्शा में ये दर्शाता है कि ये ज़मीन कहा पर है और उसका चौहदी क्या है जिसका उपयोग करके अमीन आशनी से ज़मीन का पता कर सकते हैं। 

यह उस जगह के क्षेत्रफल और वहां होने वाली  परिस्थितियों को निर्धारित करता है। खसरा में मुख्य रूप से “सभी क्षेत्र/एरिया  और उनका  नाप और ज़मीन का  मालिक (औनर) और किस किसान के द्वारा वहां खेती की जाती है, क्या फसल उगाई जाती है, किस तरह की मिटटी है, कौन से पेड़ उस क्षेत्र में लगे हैं, वहां की स्थिति और क्षेत्रफल से लेकर वहां के वातावरण इत्यादि  की सारी जानकारी खसरा यानी प्लॉट नम्बर में  दर्ज/उपलब्ध होती है

ज़मीन में खाता कितने प्रकार के होते हैं? jamin me khata kitne prakar ke hota hai 

 • कैसरहिन्द
 • गैर शिकमी दखलकार 
 • गोचर
 • जिला परिषद
 • म्युनसिपलिटि 
• रैलवे 
• वन भूमि 

अपना खतियान कैसे देखेगे  अपना  - खाता का जानकारी कैसे प्राप्त करे  - ap apna khatiyan kaise dekhenge - khata ki jankari kaise prapat karenge

इस मॉडर्न युग में सभी कुछ ऑनलाइन होने लगा हैं। भारत के विभिन्न राज्यों की राज्य सरकारों ने खसरा खतौनी प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन सुविधा का आगाज़ कर दिया है, ऑनलाइन सुविधा के आने से  अभी  के समय में खसरा खतौनी प्राप्त करने के लिए पटवारी या काश्तकार के पास जाने की भी जरुरत नहीं है, अब उन्हें भी अपने बनाये हुए दस्तावेजों को ऑनलाइन अपलोड करने की सुविधा दे दी गयी है, जिससे की भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की अच्छी कोशिश के रूप में भी देखा जा सकता आज के टाइम  में खसरा, खतौनी आदि प्राप्त करने के लिए राज्य सरकारों के द्वारा ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है! जिससे आप ऑनलाइन खसरा/खेवट/खाता नम्बर और खतौनी  सभी कुछ ऑनलाइन प्राप्त करें सकते हैं 

किसी भी राज्य के अपने क्षेत्र या अपनी जमीन का खसरा यानी प्लॉट नम्बर या खतौनी यानी खाता नम्बर जानने के लिए उस राज्य की भू बिभग की वेबसाइट पर जाकर, जिले , तहसील, ब्लॉक, और गाँव का नाम  चुनना होता है,  जिससे चुनकर इन्हें भरना होता है, इसके बाद पूरी जानकारी भरने पर एक लिस्ट उस क्षेत्र के प्लॉट यानी खेसरा नम्बर की जानकारी  सामने आ जाती है, जिसकी खतौनी यानी खाता  निकालनी है उसके नाम पर क्लिक करने के बाद, उस पर्टिक्युलर  व्यक्ति का दस्तावेज सामने आ जाता है जिसे आप प्रिंट करवा सकते हैं।

 इस आर्टिकल का सार यह है कि खाता नंबर क्या होता है जिससे जमीन के मालिक का नाम पता चलता है और उसके खाते में कितना ज़मीन है 

 अपना खाता यानि खतियान ऑनलाइन कैसे देखेंगे - apna khata online kaise dekhenge 

 अब हमलोग झारखंड राज्य के भूमि बिभग के वेबसाएट पर जाकर एक उदाहरण से अपने खाता के जानकारी लेते हैं

Step 1. आप गूगल पर सर्च करे jharbhoomi और पहला लिंक पर क्लिक करे और डिरेक्ट jharbhoomi.nic.in झरक्खंड के लिए, इसी तरह दूसरे राज्य के लिए भी कर सकते हैं - Open google and type jharbhoomi and click on first link or direct click on jharbhoomi.nic.in for Jharkhand state. for other state you can do similarly




Step 2. होम पेज पर  कुछ ऐसा दिखेगा, इसपर आप अपना खाता देखे पर क्लिक करे - Home page will look like this, Click on apna khata dekhe.



Step 3: आपके राज्य के माप लिस्ट होगा उसमें आप अपना ज़िला पर क्लिक करे - You state map will be shown, please click on your district.
    


Step 4:   आपके ज़िला माप लिस्ट होगा आप अपना ब्लॉक पर क्लिक करे Your district map will be displayed here click on your block


11111
Step 5: हल्का नम्बर चुने | halka number chune  | select your halka number




Step 6: ज़मीन का क़िस्म चुने | select kism of  jamin
 



Step 7: मौजा चुने और खाता नम्बर वाले रेडीओ बॉक्स पर क्लिक करे एवं उसका सामने वाले टेक्स्ट बॉक्स में अपना खाता नम्बर डाले, उसके बाद खाता खोजे पर क्लिक करे 




Step 8: आपका सर्च  रिज़ल्ट आपके सामने होगा, इसका डिटेल्ज़ देखने कि लिए देखे पर क्लिक करे ।  details dekhne ke liye dekhe per click kare 




Step 9: इस प्रकार आपका सभी प्लॉट का डिटेल्ज़ शो होगा, जिसमें रक़बा, चौहदी  और किस टाइप का ज़मीन है सभी जानकारी इसमें आपको मिलेंग़े.



कंक्लूज़न (Conclusion)
 
फ्रेंड्स i hope कि अब आपको खाता क्या है और इसका ओवर्व्यू जानकारी मिल गया होगा, भारत के सभी राज्यों में लगभग अपने अपने राज्य का भूमि विभाग के वेब्सायट हैं आप अपने राज्य का वेब्सायट पर अपना ज़मीन का सारा डिटेल्ज़ देख सकते हैं ईस आर्टिकल में खाता , प्लॉट एवं खतियान के बारे में दी गयी जानकारी आपके लिए यूज़फुल रहेगी। धन्यवाद:
एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने